Friday, May 25, 2018

प्राइम टाइम : चैनलों का भारत बनाम लोगों का भारत

मंत्री जी अपने फैन्स को चैलेंज दे रहे हैं कि पुशअप करें. फिट रहें. ज़रूरत यह भी है कि हम उन्हें चैलेंज करें ताकि सिस्टम फिट रहे. क्या आप दुनिया में एक भी ऐसा देश जानते हैं जहां परीक्षा पास करने, मेरिट में आने के बाद नौजवानों को दस महीने तक नियुक्ति पत्र नहीं मिलता हो. you can name any country in english from ghana to russia. सरकार के चार साल पूरे होने पर अगर इन नौजवानों को जिनकी संख्या 3287 है, नियुक्ति पत्र मिल जाए तो प्राइम टाइम से ज़्यादा डाइनैमिक मंत्री का नाम होगा. लोग दुआएं देंगे. यह बात मैं इसलिए कर रहा हूं कि ये नौजवान वाकई बहुत परेशान हैं. अगर वित्त मंत्री पीयूष गोयल इन 3287 जवानों को आयकर विभाग में नियुक्ति पत्र नहीं दिला सकते तो फिर प्रधानमंत्री को बताना ही पड़ेगा कि मंत्री जी से ये काम नहीं हो पा रहा है. अगर पीएमओ में कोई भूले भटके प्राइम टाइम देख लेता हो उनसे भी रिक्वेस्ट है कि वे प्रधानमंत्री को बताएं कि दस महीने हो गए 3287 छात्रों को अभी तक नियुक्ति पत्र नहीं मिला है...

https://khabar.ndtv.com/video/show/prime-time/india-of-channels-vs-peoples-india-485685